Friday, July 19, 2024
उत्तर प्रदेश

उ0प्र0 मे बिजली विभाग का इस कदर हुआ बेलगाम, भेज रहा है हजारो की जगह लाखो का बिजली बिल।

Top Banner

बिजली विभाग के गलत बिल भिजवाने से आम आदमी तो क्या पुलिस वाले भी परेशान हैं। थाना धौज के सिकरौना पुलिस चौकी का 2 महीने का बिजली बिल 55 लाख रुपये भेजा गया है। हद तो ये हैं कि पुलिसकर्मी इसे ठीक कराने के लिए बिजली कार्यालय के कई चक्कर लगा चुके हैं, लेकिन हर बार अधिकारी टालमटोल कर रहे हैं। वहीं, एक दुकानदार का बिल भी 80 लाख रुपये आया है।

चौकी में लगी हैं एलईएडी लाइटें

सिकरौना पुलिस चौकी इंचार्ज सत्यप्रकाश ने बताया कि चौकी में कुल 3 कमरे हैं, इन सभी कमरों में एलईडी लाइटें लगी हुई हैं, इसका बिजली बिल निगम ने 55 लाख 17 हजार 634 लाख रुपये का भेजा है। उन्होंने बताया कि पिछले 7 महीने का बिल 6,141 रुपये आया था, जिसका भुगतान कर दिया गया था। अब गलत बिल को ठीक करने के लिए बिजली निगम अधिकारी टालमटोल कर रहे हैं। कई बार पुलिसकर्मियों को भेजा जा चुका है।

दुकानदार को भेजा 80 लाख का बिल

सेक्टर-28 के रहने वाले दिनेश सिंघल ने बताया कि वे सेक्टर-28 में 20 फीट की किराए की दुकान लिए हुए हैं। उनका बिजली बिल बलवंत शाह के नाम है। इस बार उन्हें 80 लाख रुपये का बिल थमाया गया है। दिनेश सिंघल ने बताया कि पिछला बिल 25 जुलाई 2018 को 15 हजार रुपये जमा कर दिए थे। बिजली निगम ने अब उन्हें 426 यूनिट का 80 लाख 43 हजार 366 रुपये का बिल भेजा है, जिसमें से 78 लाख 16 हजार 242 रुपये पिछला बकाया है और 22 लाख 7 हजार 134 रुपये सर चार्ज दिया गया है। गलत बिल को ठीक कराने के लिए जब भी बिजली निगम के दफ्तर पर जाते हैं, तो अधिकारी सुनने को तैयार ही नहीं होते। वहीं, बिजली निगम एसई प्रदीप चौहान ने बताया कि बिल निकालने वाली कंपनी से बात की जाएगी कि बिल में गलती क्यों हो रही है।