Sunday, July 21, 2024
चर्चित समाचार

खुद को डीलर बताकर व्यवसायी से ठगी करने वाले अन्तर्राजीय गिरोह मनेन्द्रगढ़ पुलिस के गिरफ्त में

Top Banner

तौसीफ रजा

एमसीबी/पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज सरगुजा व पुलिस अधीक्षक एमसीबी के मार्गदर्शन पर हुई कार्यवाही आरोपी द्वारा नेपाल, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रवेश तथा बिहार में भी किये है कई वारदात। आरोपियों से ठगी गई पांच लाख दस हजार रूपये में से चार लाख साठ हजार रूपये नगदी जप्त | बिहार – नेपाल बार्डर से पकड़ाये आरोपी ।
आरोपी रंधीर राम उर्फ राधे आ० श्याम सुन्दर धोबी उम्र 29 वर्ष सा० ग्राम बबुरहन पोस्ट अमॉव थाना चैनपुर अमवा जिला कैमूर बिहार. महताब अली आ० मोहम्मद मनउवर अली उम्र 23 वर्ष सा० ग्राम शाही सराय घटवान थाना कुवरा जिला कैमूर बिहार
जप्त मशरूका मारूति सुजूकी Swift Dzire कार क्रमाक BR-24-K-6478 किमती 4,50000.00 Grand 110 NIOS कार क्रमाक BR-45-N-3789 किमती 6,00000.00 3. 02 नग मोबाईल हैण्डसेट 4. 02 नग नेपाली मुद्रा 5. 4,60000/- (चार लाख साठ हजार ) रूपये नगदी
कुल मशरूका 15,30000.00 ( पन्द्रह लाख तीस हजार) रूपये आरोपियों के कब्जे से जप्त किया गया।तरीका-ए-वारदात आरोपी रामाको सीमेन्ट, सीट का फर्जी डीलर बनकर सस्ते दाम में सामाग्री उपलब्ध कराने के नाम से करते थे ठगी । विवरण:- मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि प्रार्थी दिलीप गुप्ता आ० पिताम्बर लाल गुप्ता उम्र 34 वर्ष निवासी अटल चौक वार्ड नं0 11 चनवारीडांड मनेन्द्रगढ़ का थाना उपस्थित आकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि मेरा सांई राम
मर्चेन्ट (सीमेन्ट, राड, शीट, पाईप ) का फर्म है। रामाको सीमेन्ट, सीट का डीलर बताकर दो व्यक्ति द्वारा फर्जी तरीके से पाँच लाख दस हजार रूपये लेकर भाग जाने के संबंध में लिखित शिकायत दिया गया फरियादी के शिकायत पर अप० क्र० 349/2022 धारा 420 ता०हि० का पंजीबद्ध कर अज्ञात आरोपियों को पकड़ने हेतु पुलिस महानिरीक्षक अजय यादव
सरगुजा रेंज सरगुजा के मार्गदर्शन में पुलिस अधीक्षक मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी- भरतपुर श्री टी. आर. कोशिमा के निर्देशन में अति0 पुलिस अधीक्षक निमेष बरैया व अनुविभागीय पुलिस अधिकारी राकेश कुर्रे के नेतृत्व में थाना प्रभारी सचिन सिंह
के हमराह स्पेशल टीम का गठन कर मामले की पतासाजी की जाने लगी। प्रकरण के सभी बिन्दुओं का बारीकी से विश्लेषण
किया गया आरोपी की पहचान करने में सफलता पाई गई। उपरोक्त अपराध की विवेचना के दौरान विशेष टीम को उत्तर
प्रदेश व मोहनिया, भबुआ जिला कैमूर बिहार, रवाना किया गया था विशेष टीम के द्वारा आरोपी के ठिकाने पर लगातार
पतासाजी की जा रही थी जो आरोपी अपना टिकना बदल बदल कर लोगों को टंगी करने का प्रयास कर रहे थे इसी दौरान
आरोपियों का बिहार नेपाल बार्डर के समीप होने का पता चला जो दबिश देकर आरोपी को गिरफ्तार कर पुछताछ किया गया
जो पुछताछ दौरान आरोपियो द्वारा मनेन्द्रगढ़ में आकर व्यापारी दिलीप गुप्ता को रामाको सीमेन्ट, का फर्जी डीलर बताकर
सीमेन्ट, राड शीट सस्ते दाम में देने के नाम से ठगी करना स्वीकार किये आरोपी द्वारा अन्य राज्यो मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश
में भी अपने आप को डीलर बताकर लाखो रूपये की ठगी किये है आरोपियों द्वारा जुर्म करना स्वीकार करने से गिरप्तार
कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा जा रहा है। – आरोपी महताब को पकड़ने के बाद गाडी में कुछ केमिकल, बटर पेपर कैची व पेपर मिले इस विषय में पुछताछ
करने पर उसने बताया कि उपरोक्त केमिकल के माध्यम से सामने वाले व्यक्ति को नकली नोट छापने का लालच देकर रकम
दुगना करना बताया यह उपरोक्त कृत्य करने जा रहा था जिसे पुलिस टीम के द्वारा पकड़ा गया आरोपी के पास से नेपाल की
भी मुद्रा बरामद हुई उक्त संबंध में पतासाजी कि जा रही है।
अन्तर्राजीय गिरोह को पकड़ने वाली टीम का विवरण उप निरीक्षक सचिन सिंह, सउनि नईम खान, आर. एन. गुप्ता,प्र. आर. इस्तियाक खान, जुनास एक्का आर. पुष्कल सिन्हा, प्रिंस राय, शम्भू यादव, राकेश शर्मा, जितेन्द्र ठाकुर, प्रमोद यादव, चन्द्रभूषण का सराहनीय योगदान रहा।