Sunday, July 14, 2024
प्रतापगढ़

जिला निर्वाचन अधिकारी ने विधानसभा सामान्य निर्वाचन को सकुशल एवं निष्पक्ष रूप से सम्पन्न कराने हेतु अधिकारियों के साथ की बैठक

Top Banner

प्रतापगढ़। जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी डा0 नितिन बंसल ने विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2022 को निष्पक्ष, शान्तिपूर्ण, सकुशल, पारदर्शी ढंग से सम्पन्न कराने हेतु कल सायंकाल कैम्प कार्यालय के सभागार में निर्वाचन अधिकारियों एवं प्रभारी अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में जिलाधिकारी ने पोलिंग पर्सनल के प्रशिक्षण के सम्बन्ध में अधिशासी अधिकारी नगर पालिका को निर्देश दिया कि प्रशिक्षण स्थल पर सफाई, पेयजल की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित करायें। बैठक में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा बताया गया कि पीठासीन अधिकारी एवं मतदान अधिकारी प्रथम का प्रशिक्षण सेन्ट अन्थोनी इण्टर कालेज एवं राजकीय इण्टर कालेज में दो पालियों में दिनांक 03 फरवरी से 05 फरवरी तक कराया जा रहा है। प्रशिक्षण हेतु सभी कक्षों में प्रोजेक्टर के माध्यम से प्रशिक्षण दिया जायेगा। मुख्य विकास अधिकारी ईशा प्रिया द्वारा बताया गया कि प्रशिक्षण हेतु सभी आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित कर ली गयी है, प्रशिक्षण के समय ही सभी कार्मिकों को फार्म-12 तथा मास्क भी उपलब्ध कराये जायेगें। सभी पीठासीन अधिकारियों को प्रशिक्षण के समय मतदान प्रक्रिया के सम्बन्ध में जानकारी देने के लिये लघु पत्रक (राइट-अप) उपलब्ध कराया जायेगा। इसी तरह दिनांक 07 एवं 08 फरवरी को सेक्टर मजिस्ट्रेट, जोनल मजिस्ट्रेट का प्रशिक्षण कराया जायेगा। दिनांक 17 फरवरी से 23 फरवरी तक सभी मतदान कार्मिकों का प्रशिक्षण कराया जायेगा, जिसकी तैयारियों पूर्ण कर ली गयी है। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि मतदान अधिकारी द्वितीय एवं तृतीय को भी फार्म-12 उपलब्ध करा दिया जाये ताकि वह भी पोस्टल बैलेट के माध्यम से मतदान कर सके। जिलाधिकारी ने अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) सुनील कुमार शुक्ल को मतदान स्थल पर पोलिंग पर्सनल के रवानगी स्थल पर समस्त व्यवस्थायें सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। इसी तरह वीडियो निगरानी, प्रेक्षकगण के अवस्थापन, उनके वाहन की व्यवस्था तथा भारी एवं हल्का वाहन की उपलब्धता, आचार संहिता एवं शिकायतों के निस्तारण की आनलाइन एवं ऑफलाइन व्यवस्था के सम्बन्ध में प्रभारी अधिकारियांं से समीक्षा की। स्वीप कार्यक्रम की समीक्षा करते हुये जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि अपेक्षाकृत कम मतदान होने वाले मतदान केन्द्रों का चिन्हीकरण कर वहां पर स्वीप की गतिविधियां चलायी जायें तथा उस मतदान केन्द्र पर शिक्षक, ग्राम स्तरीय अधिकारी एवं कर्मचारियों के साथ बैठकर कम मतदान किये जाने वाले कारणों का पता लगाये और कारणों को दूर करायें ताकि मतदान का प्रतिशत बढ़ सके। जिलाधिकारी ने प्रभारी अधिकारी परिवहन/परियोजना निदेशक डीआरडीए को निर्देश दिया कि वाहन की उपलब्धता एवं आवश्यकता का तर्कपूर्ण आकलन कर लिया जाये तथा वाहनों के अधिग्रहण की कार्यवाही समय से पहले पूर्ण कर ली जाये। निर्वाचन शिकायतों के निस्तारण में सम्बन्ध में सम्बन्धित प्रभारी अधिकारी निक्षेपण के पूर्व उस शिकायत को अवश्य देख लें तथा गुणवत्तापूर्ण निस्तारण किया जाये। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ईशा प्रिया, अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) सुनील कुमार शुक्ल, मुख्य राजस्व अधिकारी इन्द्र भूषण वर्मा, अपर पुलिस अधीक्षक जिला सूचना अधिकारी विजय कुमार सहित, निर्वाचन अधिकारी, समस्त प्रभारी अधिकारी व अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।