Sunday, July 21, 2024
जौनपुर

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ0 गोरखनाथ पटेल द्वारा किया गया विभिन्न विद्यालयों का निरीक्षण

Top Banner

कार्यालय महानिदेशक, स्कूल शिक्षा एवं राज्य परियोजना निदेशक के निर्देश के क्रम में उ0प्र0 बेसिक शिक्षा परिषद द्वारा जनपद मे संचालित परिषदीय विद्यालयों का निरीक्षण व संचालित कार्यक्रमों की प्रगति के अनुश्रवण हेतु 26 अगस्त 2023 को छात्रों के अधिगम स्तर मे वृद्धि लाने, निपुण लक्ष्य प्राप्त करने व विद्यालय प्रांगण की साफ-सफाई एवं विद्यालय मे अध्ययनरत छात्र-छात्राओं के उपस्थिति एवं ठहराव मे वृद्धि करने तथा शासन द्वारा संचालित योजनाओं यथा-यू-डायस़, डी0बी0टी0 आदि को ससमय पूर्ण किये जाने एवं आगामी ’“स्वच्छता पखवाड़ा”’ मनाये जाने की तैयारी की समीक्षा हेतु जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा विभिन्न विद्यालयों का निरीक्षण किया गया।कंपोजिट विद्यालय मंगराव, वि0क्षे0 धर्मापुर’ में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा विद्यालय में आयोजित प्रातः कालीन सभा मे प्रतिभाग किया गया। निरीक्षण के दौरान विद्यालय की अध्यापक उपस्थिति पंजिका के अवलोकन मे पाया गया कि विद्यालय के प्रधानाध्यापक भैयालाल विद्यालय पर उपस्थित हैं एवं निरीक्षण के समय ही लगभग 08ः05 पर विद्यालय पर कार्यरत सहायक अध्यापक मो0 अली विद्यालय पर उपस्थित हुये। विद्यालय पर कार्यरत अन्य समस्त शिक्षक/शिक्षामित्र/अनुदेशक बिना किसी पूर्व सूचना के विद्यालय पर अनाधिकृत रूप से अनुपस्थित पाये गये। विद्यालय मे नामांकित कुल 217 छात्रों के सापेक्ष सिर्फ 30 छात्र निरीक्षण मे उपस्थित पाये गये। विद्यालय मे छात्र नामांकन के सापेक्ष छात्र उपस्थित कम पायी गयी। शासन द्वारा विद्यालय को गत शैक्षणिक सत्र 2022-23 मे प्राप्त कम्पोजिट धनराशि रूपए 50000 की आय-व्यय पंजिका विद्यालय पर अद्यतन पायी गयी, परन्तु विद्यालय के प्रधानाध्यापक द्वारा विद्यालय की स्टाक पंजिका अवलोकित नहीं करायी गयी। शासन द्वारा विद्यालय को उपलब्ध करायी गयी “विज्ञान किट” एवं “गणित किट” का विद्यालय मे उपयोग किया जा रहा पाया गया। ’विद्यालय के अध्यापक उपस्थित पंजिका के अवलोकन एवं विद्यालय के शैक्षणिक पर्यावरण से परिलक्षित हुआ कि विद्यालय के प्रधानाध्यापक एवं अन्य समस्त शिक्षक/शिक्षामित्र/अनुदेशकों के मध्य टीम भावना एवं आपसी सामंजस्य का सर्वथा अभाव है। विद्यालय प्रांगण साफ-सुथरा नहीं पाया गया। निरीक्षण के दौरान विद्यालय मे अनाधिकृत रूप से अनुपस्थित पाये गये समस्त शिक्षक/शिक्षामित्र/अनुदेशक का निरीक्षण तिथि का वेतन/मानदेय  अवरूद्ध करते हुये एवं विद्यालय मे प्राप्त कमियों के कारण विद्यालय के प्रधानाध्यापक भैयालाल को स्पष्टीकरण निर्गत करते हुये निर्देशित किया गया कि विद्यालय मे कार्यरत समस्त शिक्षक एवं अन्य कर्मचारियों मे टीम भावना विकसित करते हुये सर्व शिक्षा अभियान के अंतर्गत विद्यालय के शिक्षा क्षेत्र मे अवस्थित मजरों मे गृह भ्रमण कर समुदाय आधारित पद्धति का उपयोग कर विद्यालय मे गठित समितियों यथा- विद्यालय प्रबंध समिति, पी0टी0ए0, एम0टी0ए0 एवं ग्रामपंचायत मे स्थित पंचायतीराज संस्थाओं की सहायता से विद्यालय मे  छात्र नामांकन, उपस्थिति एवं ठहराव मे वृद्धि करने हेतु रोस्टर आधारित कार्ययोजना बनाकर सम्बंधित खण्ड शिक्षा अधिकारी के माध्यम से 07 दिवस के मध्य अपना स्पष्टीकरण जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, के समक्ष प्रस्तुत करना सुनिश्चित करें साथ ही साथ विद्यालय मे उपस्थित समस्त शैक्षणिक  कर्मचारियों को छात्रों के अधिगम स्तर मे वृद्धि लाने, निपुण लक्ष्य प्राप्त करनें व विद्यालय प्रांगण एवं रसोईघर की साफ-सफाई एवं विद्यालय मे अध्ययनरत  छात्र-छात्राओं के उपस्थित एवं ठहराव मे वृद्धि करने तथा शासन द्वारा संचालिय योजनाओं यथा-यू-डायस़, डी0बी0टी0  आदि को ससमय पूर्ण किये जाने एवं आगामी “स्वच्छता पखवाड़ा” मनाये जाने  हेतु तैयारी पूर्ण किये जाने हेतु निर्देशित किया गया।प्राथमिक विद्यालय खटौलिया, वि0क्षे0-धर्मापुर’ के निरीक्षण के दौरान विद्यालय की अध्यापक उपस्थिति पंजिका के अवलोकन मे विद्यालय मे कार्यरत प्रिया तिवारी सहायक अध्यापक निरीक्षण तिथि को आकस्मिक अवकाश पर थी एवं सहायक अध्यापक सन्तोष कुमार यादव 23 अगस्त, 2023 से अद्यतन आकस्मिक अवकाश पर है। रीता गौतम निरीक्षण के दौरान विद्यालय पर उपस्थित हुई। विद्यालय पर कार्यरत अन्य समस्त शिक्षक/शिक्षामित्र विद्यालय पर उपस्थित पाये गये। विद्यालय मे नामांकित कुल 83 छात्रों के सापेक्ष सिर्फ 40 छात्र निरीक्षण मे उपस्थित पाये गये। विद्यालय मे छात्र नामांकन के सापेक्ष छात्र उपस्थित कम पायी गयी। शासन द्वारा विद्यालय को गत शैक्षणिक सत्र 2022-23 मे प्राप्त कम्पोजिट धनराशि रूपए 25000 की आय-व्यय पंजिका व स्टाक रजिस्टर विद्यालय पर अद्यतन पाया गया। विद्यालय प्रांगण साफ-सुथरा पाया गया। विद्यालय मे प्रधानमंत्री पोषण अभियान के अंतर्गत मध्यान्ह भोजन बनाने की तैयारी की जा रही थी। बेसिक शिक्षा के द्वारा प्रधानाध्यापक सहित विद्यालय मे कार्यरत समस्त प्रकार के शिक्षकों को टीम भावना के साथ सर्व शिक्षा अभियान के अंतर्गत विद्यालय के शिक्षा क्षेत्र मे अवस्थित मजरों मे गृह भ्रमण कर ’’समुदाय आधारित पद्धति का उपयोग कर विद्यालय मे गठित समितियों यथा-विद्यालय प्रबंध समिति, पी0टी0ए0, एम0टी0ए0 एवं ग्राम पंचायत मे स्थित पंचायतीराज संस्थाओं की सहायता से विद्यालय मे छात्र नामांकन, उपस्थिति एवं ठहराव मे वृद्धि करने हेतु रोस्टर आधारित कार्ययोजना बनाने एवं छात्रों के अधिगम स्तर मे वृद्धि लाने, निपुण लक्ष्य प्राप्त करनें व विद्यालय प्रांगण एवं रसोईघर की साफ-सफाई एवं विद्यालय मे अध्ययनरत छात्र-छात्राओं के उपस्थित एवं ठहराव मे वृद्धि करने तथा शासन द्वारा संचालित योजनाओं यथा- यू-डायस़, डी0बी0टी0 आदि को ससमय पूर्ण किये जाने एवं आगामी “स्वच्छता पखवाड़ा” मनाये जाने हेतु तैयारी पूर्ण किये जाने हेतु निर्देशित किया गया।’ प्राथमिक विद्यालय गद्दोपुर, वि0क्षे0धर्मापुर’ के निरीक्षण के दौरान विद्यालय में कार्यरत समस्त शिक्षक/शिक्षामित्र विद्यालय पर उपस्थित पाये गये। विद्यालय मे नामांकित कुल 73 छात्रों के सापेक्ष सिर्फ 43 छात्र निरीक्षण मे उपस्थित पाये गये। विद्यालय मे छात्र नामांकन के सापेक्ष छात्र उपस्थित सन्तोषजनक नहीं पायी गयी। शासन द्वारा विद्यालय को गत शैक्षणिक सत्र 2022-23 मे प्राप्त कम्पोजिट धनराशि रूपए 25000 के सापेक्ष रूपए 24990 व्यय किये गये हैं, जिसकी आय-व्यय पंजिका विद्यालय पर अद्यतन पायी गया। गत शैक्षिक सत्र 2022-23 मे विद्यालय मे अध्ययनरत कुल 93 छात्रों के सापेक्ष 82 छात्रों के गणवेश की धनराशि लाभार्थी अभिभावक के आधार सीडेड बैक खाते मे हस्तानांतरित पायी गयी। विद्यालय प्रांगण साफ-सुथरा  पाया गया। ’विद्यालय मे प्रधानमंत्री पोषण अभियान के शासन द्वारा निर्धारित मीनू के अनुसार मध्यान्ह भोजन बनता हुआ पाया गया। निरीक्षण के दौरान विद्यालय के प्रधानाध्यापक को विद्यालय की दीवालों पर बाला पेंटिंग कराये जाने हेतु निर्देशित किया गया। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा प्रधानाध्यापक सहित विद्यालय मे कार्यरत समस्त प्रकार के शिक्षकों को टीम भावना के साथ सर्व शिक्षा अभियान के अंतर्गत विद्यालय के शिक्षा क्षेत्र मे अवस्थित मजरों मे गृह भ्रमण कर समुदाय आधारित पद्धति का उपयोग कर विद्यालय मे गठित समितियों यथा- विद्यालय प्रबंध समिति, पी0टी0ए0, एम0टी0ए0 एवं ग्रामपंचायत मे स्थित पंचायतीराज संस्थाओं की सहायता से विद्यालय मे छात्र नामांकन, उपस्थिति एवं ठहराव मे वृद्धि करने हेतु रोस्टर आधारित कार्ययोजना बनाने एवं छात्रों के अधिगम स्तर मे वृद्धि लाने, निपुण लक्ष्य प्राप्त करनें व विद्यालय प्रांगण एवं रसोईघर की साफ-सफाई एवं विद्यालय मे अध्ययनरत छात्र-छात्राओं के उपस्थित एवं ठहराव मे वृद्धि करने तथा शासन द्वारा संचालित योजनाओं यथा-यू-डायस, डी0बी0टी0 आदि को ससमय पूर्ण किये जाने एवं आगामी “स्वच्छता पखवाड़ा” मनाये जाने हेतु तैयारी पूर्ण किये जाने हेतु निर्देशित किया गया। प्राथमिक विद्यालय रामदासपुर नेवादा, वि0क्षे0 धर्मापुर’ के निरीक्षण के दौरान विद्यालय में कार्यरत समस्त शिक्षक/शिक्षामित्र विद्यालय पर उपस्थित पाये गये। विद्यालय मे नामांकित कुल 57 छात्रों के सापेक्ष 40 छात्र निरीक्षण मे उपस्थित पाये गये। ’विद्यालय मे शिक्षक-छात्र अनुपात कम पाया गया जिससे स्पष्ट होता है कि विद्यालय मे कार्यरत प्रधानाध्यापक सहित समस्त प्रकार के शिक्षक द्वारा सर्व शिक्षा अभियान के अंतर्गत शासन व जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा निर्गत निर्देशों के प्रति संवेदनशील नहीं हैं।’ शासन द्वारा विद्यालय को गत शैक्षणिक सत्र 2022-23 मे प्राप्त कम्पोजिट धनराशि के आय-व्यय से सम्बंधित पंजिका विद्यालय पर अद्यतन नहीं पायी गयी। विद्यालय में अध्ययनरत छात्रों का अधिगम स्तर बहुत ही कम पाया गया। ’विद्यालय मे प्रधानमंत्री पोषण अभियान’ के अंतर्गत बनाये जा रहे मध्यान्ह भोजन मे खुली सामग्री का प्रयोग किया जा रहा पाया गया। ’निरीक्षण के दौरान विद्यालय मे प्राप्त कमियों के कारण प्रधानाध्यापक सहित विद्यालय मे कार्यरत समस्त प्रकार के शिक्षकों का वेतन/मानदेय अग्रिम आदेश तक अवरूद्ध करते हुये निर्देशित किया जाता है कि टीम भावना के साथ सर्व शिक्षा अभियान के अंतर्गत विद्यालय के शिक्षा क्षेत्र मे अवस्थित मजरों मे गृह भ्रमण कर समुदाय आधारित पद्धति का उपयोग कर विद्यालय मे गठित समितियों यथा- विद्यालय प्रबंध समिति, पी0टी0ए0, एम0टी0ए0 एवं ग्रामपंचायत मे स्थित पंचायतीराज संस्थाओं की सहायता से विद्यालय में छात्र नामांकन, उपस्थिति एवं ठहराव मे वृद्धि करने हेतु रोस्टर आधारित कार्ययोजना बनाकर सम्बंधित खण्ड शिक्षा अधिकारी के माध्यम से अपना स्पष्टीकरण 07 दिवस के मध्य                        जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत करना सुनिश्चित करें साथ ही साथ प्रधानाध्यापक सहित विद्यालय मे कार्यरत समस्त प्रकार के शिक्षकों को छात्रों के अधिगम स्तर मे वृद्धि लाने, निपुण लक्ष्य प्राप्त करनें व विद्यालय प्रांगण एवं रसोईघर की साफ-सफाई एवं विद्यालय मे अध्ययनरत छात्र-छात्राओं के उपस्थित एवं ठहराव मे वृद्धि करने तथा शासन द्वारा संचालित योजनाओं यथा- यू-डायस, डी0बी0टी0  आदि को ससमय पूर्ण किये जाने एवं  आगामी “स्वच्छता पखवाड़ा” मनाये जाने  हेतु तैयारी पूर्ण किये जाने हेतु निर्देशित किया गया।
पूर्व माध्यमिक विद्यालय खलसहाँ, वि0क्षे0- धर्मापुर के निरीक्षण के दौरान विद्यालय मे कार्यरत समस्त शिक्षक/शिक्षामित्र विद्यालय पर उपस्थित पाये गये। विद्यालय मे नामांकित कुल 112 छात्रों के सापेक्ष सिर्फ 45 छात्र निरीक्षण मे उपस्थित पाये गये। विद्यालय मे छात्र नामांकन के सापेक्ष उपस्थिति अत्यंत न्यून पायी गयी। ’विद्यालय मे प्रधानमंत्री पोषण अभियान के अंतर्गत शासन द्वारा निर्धारित मीनू के अनुसार मध्यान्ह भोजन बना हुआ पाया गया। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा विद्यालय के मध्यावकाश मे अध्ययनरत छात्र-छात्राओं के साथ बैठकर मध्यान्ह भोजन किया गया। निरीक्षण के दौरान विद्यालय मे प्राप्त कमियों के कारण ’प्रधानाध्यापक सहित विद्यालय मे कार्यरत समस्त प्रकार के शिक्षकों स्पष्टीकरण निर्गत करते हुये निर्देशित किया गया कि टीम भावना के साथ सर्व शिक्षा अभियान के अंतर्गत विद्यालय के शिक्षा क्षेत्र मे अवस्थित मजरों मे गृह भ्रमण कर समुदाय आधारित पद्धति का उपयोग कर विद्यालय मे गठित समितियों यथा-विद्यालय प्रबंध समिति, पी0टी0ए0, एम0टी0ए0 एवं ग्रामपंचायत मे स्थित पंचायतीराज संस्थाओं की सहायता से विद्यालय मे छात्र नामांकन, उपस्थिति एवं ठहराव मे वृद्धि करने हेतु रोस्टर आधारित कार्ययोजना बनाकर सम्बंधित खण्ड शिक्षा अधिकारी के माध्यम से अपना स्पष्टीकरण 07 दिवस के मध्य जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत करना सुनिश्चित करें साथ ही साथ प्रधानाध्यापक सहित विद्यालय मे कार्यरत समस्त प्रकार के शिक्षकों को छात्रों के अधिगम स्तर मे वृद्धि लाने, निपुण लक्ष्य प्राप्त करनें व विद्यालय प्रांगण एवं रसोईघर की साफ-सफाई एवं विद्यालय मे अध्ययनरत छात्र-छात्राओं के उपस्थित एवं ठहराव मे वृद्धि करने तथा शासन द्वारा संचालित योजनाओं यथा- यू-डायस़, डी0बी0टी0  आदि को ससमय पूर्ण किये जाने एवं  आगामी “स्वच्छता पखवाड़ा” मनाये जाने  हेतु तैयारी पूर्ण किये जाने हेतु निर्देशित किया गया।