Sunday, July 21, 2024
प्रतापगढ़

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव ने जिला कारागार का किया वर्चुअल निरीक्षण

Top Banner

 

प्रतापगढ़। माननीय उ0प्र0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ के दिशा निर्देश व माननीय जनपद न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकारण संजय शंकर पाण्डेय के मार्गदर्शन में जिला कारागार का जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव नीरज कुमार त्रिपाठी द्वारा वर्चुअल निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान उपजेलर अवधेश कुमार राय द्वारा बताया गया कि जिला कारागार में 1162 बन्दी निरूद्ध है जिसमें 1031 विचाराधीन बन्दी है। इसमें 21 महिला तथा 938 पुरूष बन्दी शामिल है। सिद्धदोष बन्दियों की संख्या 127 बतायी गयी जिसमें 06 महिला बन्दी व 121 पुरूष बन्दी शामिल है। जेल अस्पताल में कुल 12 बन्दियों का उपचार चल रहा है। यह भी बताया गया कि जिला कारागार में एक बन्दी कोरोना पाजिटिव पाये गये है जिन्हें अन्य बन्दियों से अलग रखा गया है जिसका उपचार चल रहा है। जिला कारागार को पूरी तरह से सेनेटाइज कराया जा चुका है, प्रतिदिन जेल में बन्दियों के लिये कोरोना जांच की व्यवस्था है। जिला कारागार में कार्यरत अधिकारी एवं कर्मचारियों को कोरोना की बूस्टर डोज लगा दी गयी है। वीडियो कान्फ्रेन्सिंग के माध्यम से बन्दी अब्दुल रसीद ने बताया कि उसको पैरवी के लिये पैनल अधिवक्ता मिले है जो मुकदमें की पैरवी करते है, बन्दी विनय कुमार शर्मा, समरजीत ओझा ने बताया कि उनके मुकदमें की पैरवी उनके निजी अधिवक्ता द्वारा की जा रही है। इस अवसर पर सचिव द्वारा बन्दियों को उनके अधिकारों एवं प्लीबारगेनिंग के सम्बन्ध में विधिक जानकारी देते हुये जागरूक किया गया। उपजेलर द्वारा जानकारी दी गयी कि जेल में निरूद्ध सभी सिद्धदोष बन्दियों की अपील हो चुकी है जो सम्बन्धित न्यायालयों में विचाराधीन है। वर्चुअल जेल निरीक्षण के दौरान जेल अधिकारी को निर्देशित किया गया कि जिला कारागार की प्रतिदिन साफ सफाई कराने के साथ साथ सेनेटाइज कराया जाये। इस अवसर पर उप जेलर अवधेश प्रसाद राय, जेल विजिटर विश्वनाथ प्रसाद त्रिपाठी एडवोकेट उपस्थित रहे।