Friday, July 19, 2024
अपराधजौनपुर

बक्सा थाने पुलिस की हिरासत में एक युवक की हुई मौत के बाद उग्र ग्रामीणों ने राज्यमार्ग पर जाम कर किया पुलिस पर पथराव, दो पुलिसकर्मी घायल

Top Banner

जौनपुर – थाना बक्सा पुलिस की हिरासत में एक युवक किशन यादव उर्फ पुजारी 25 वर्षीय पुत्र तिलकधारी यादव की मौत के बाद पुलिस के फूले हाथ पांव, उसी के बाद ग्रामीणों ने चक्का जाम कर दिया, युवक की मौत के बाद उग्र ग्रामीणों ने चक्का जाम के दौरान पुलिस पर किया पथराव व लाठी-डंडे से हमला, जिसमें एक इंस्पेक्टर समेत एक एसआई गंभीर रूप से घायल हो गए व कुछ पुलिसकर्मियों को भी हल्की चोटें आई हैं। बक्सा थाना क्षेत्र की इस घटना के बाद गरमाए माहौल को देखते हुए जनपद के आस पास की भारी पुलिस बल के साथ भारी भात्रा में फोर्स हुई तैनात, वही दूसरी तरफ मृत युवक के भाई ने बक्सा पुलिस पर बर्बरता से पिटाई के दौरान हुई मौत का लगाया पुलिस पर आरोप।

मामला यह है कि गुरुवार की शाम बक्सा थाना पुलिस ने चकमिर्जा गांव के कृष्ण मुरारी उर्फ पुजारी पुत्र तिलकधारी यादव को पूछताछ के लिए थाने लाई थी तड़के पूछताछ के लिए लाए गए युवक को मृत अवस्था में लगभग 3:15 रात्रि में पुलिस के 2 जवान उसके शव को लाकर जिला अस्पताल के मर्चरी हाउस में रखवा दिया उसके कुछ ही देर बाद दोनों पुलिसकर्मी जो पहले अज्ञात में युवक के शव को जमा करवाए थे बाद में इसके नाम की पुष्टि करते हुए मेमो बनाया गया सुबह होते ही पूरा जिला अस्पताल पुलिस छावनी में तब्दील हो गया। वहीं दूसरी तरफ यह भनक लगते ही गांव के भारी संख्या में ग्रामीण व परिजन रोते बिलखते जिला अस्पताल पहुंच गए, जहाँ परिजन का आरोप है कि पुलिस इन्हें उठाकर ले गई और इतनी बेरहमी से पीटा कि उसकी मौत हो गई, परिजनों ने यह भी बताया कि बक्सा थाने की पुलिस पूर्व में धर्मेंद्र यादव पुत्र राम सुवारथ निवासी भोजनपट्टी थाना बक्सा दूसरा लल्लन पुत्र देवनाथ सरोज ग्राम चक महान थाना बक्सा तीसरा अजय सरोज पुत्र अमरनाथ ग्राम चकमहान व चौथा अवनीश कुमार यादव पुत्र राजेंद्र यादव निवासी डेरापुर थाना बक्सा को पुलिस ने 4 दिन पूर्व पकड़ लिया था और तब से उसे थाने पर रखकर तरह-तरह से प्रताड़ित करते रहे और जबरदस्ती जुर्म स्वीकार कराने का प्रयास कर रहे थे। युवक की मौत की घटना के बाद भारी मात्रा में पुलिसकर्मी जिला अस्पताल में जहां तैनात किए हैं वहीं मृतक की लाश देखने के लिए परिजनों से कई बार पुलिस की कहासुनी भी हो गई है इधर एक तरफ पुलिस और परिजनों की बीच जहां रस्साकशी चल रही थी वहीं दूसरी तरफ इलाहाबाद जौनपुर मार्ग पर स्थित इब्राहिमाबाद गांव के पास नेशनल हाईवे पर ग्रामीणों ने चक्का जाम कर दिया और पुलिस और प्रशासन विरोधी नारेबाजी करने लगे उसी दौरान ग्रामीणों के पथराव से इंस्पेक्टर संतोष कुमार श्रीवास्तव उप निरीक्षक जय सिंह समेत कई पुलिसकर्मियों को पथराव और ग्रामीणों की मारपीट का शिकार होना पड़ा जिसके कारण गंभीर चोट लगने के कारण इंस्पेक्टर संतोष कुमार उपनिरीक्षक जय सिंह को जिला अस्पताल लाया गया है जहाँ चिकित्सक द्वारा उनका उपचार किया जा रहा हैं। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक राजकरण नैयर ने बताया कि लूट की एक घटना में पुलिस पूछताछ के लिए उक्त युवक को थाने ले आई थी जहां उक्त युवक कृष्णा की मौत के बाद 3 कर्मचारी तथा थानाध्यक्ष के खिलाफ कार्यवाही कर उन्हें निलंबित किया गया है ताकी मजिस्ट्रियल जांच प्रभावित न हो सके, फिलहाल समाचार लिखे जाने तक अभी ग्रामीण और पुलिस दोनों ढके हुए हैं।