Friday, July 19, 2024
चर्चित समाचार

लोनावाला में मौलाना के परिवार के ५लोग पानी में बहे

Top Banner

 

मुंबई के पास पुणे के लोनावला में बारिश का मौसम शुरू होते ही एक बड़ा हादसा हुवा है, यहाँ बारिश के सीज़न का लुत्फ़ उठाने के लिये गये पूणे के हडपसर में रहने वाले मौलाना सलमान साहब के एक ही परिवार के 5 लोग भूसी दम की पहाड़ी पर बने वाटर फॉल में बेह गये जो परिवार पानी में बह गया है उसमे 4 बच्चे एक महिला शामिल है, ये हादसा कल 30-6-24 को दो पहर 1 बजे जब ये फॅमिली वॉटर फॉल जरने में खड़े रह के जरने के पानी का लुत्फ़ उठा रहा था उसी दौरान ऊँची पहाड़ो के ढलान पे से अचानक पानी का बहाव तेज़ होने लगा तभी बहार खड़े लोगो ने उन्हें वही मज़बूताई से खड़े रहने को कहा फॅमिली इस तूफानी बहाव से बहार निकल पाती उससे पहले पानी के जरने ने अपना रौद्र स्वरुप दिखाने लगा लगातार हिमत जुटा के फॅमिली एक दूसरे का हाथ पकड़ कर लम्बे टाइम तक अपने आप को मौत के मुँह से बचाने की मुशक्कत करती रही, तभी बहार खड़े लोगो ने भी बचाने के लिये पेड़ की डाल तोड़ के पानी में डालने की कोशिश की जो नाकाम रही लम्बा टाइम इस जरने के पत्थर पर जुजने के बाद जिंदगी और मौत के बीच झूझते परिवार को तेज़ बहाव पानी अपने में समा के बहा ले गया बहार खड़े लोग इस परिवार के मौत के तमाश हिन् बन गये और देखते ही देखते पूरा परिवार पानी में ओज़ल हों गया दिल दहला देनेवाली इस घटना का वाइरल वीडियो काफ़ी डरावना लगता है जो एक बुरे ख्वाब की तरह सत्य आइना है जो हमें सीख देता है की ऐसी भयानक जगहों पे जाने से परहेज़ करना चाहिए, ईश्वर की दी हुई जिंदगी से खिलवाड़ करना नहीं चाहिए उन मासूम बच्चों का क्या कसूर था जिन्होंने दुनिया भी नहीं देखि जिन्हे इस जरने से मिलने वाले आनंद का पता ही ना हों उन्हें भी इसमें जोंक दिया गया, खेर लोगो को इस हादसे से सबक लेना चाहिए अभी तक पुलिस की खबर के मुताबिक (1) शाहिश्ता अंसारी उम्र 36 (2) अमीना अंसारी 13 (3) हुमेरा अंसारी 08 की डेड बॉडी बरामद की गई है बाकि के 2 लोगो की तलाश जारी है जिनमें अदनान अंसारी 04 मारिया सैयद 09 लोनावला सिटी पोलिस टीम और शिव दुर्ग बचाव दल बाकि के लापता लोगों की तलाश कर रही है. यहाँ कही लोग सरकार को कौशते नज़र आ रहे थे जो केह रहे थे की पिकनीक पॉइंट में ऐसे हादसों में बचाव और सुरक्षा की कोई व्यवस्था नहीं दिखाई पडती यहाँ हर साल कोई ना कोई हादसा होता रहता है लेकिन गवर्नमेंट को इसकी कोई फिकर नहीं।