Monday, July 22, 2024
अपराध

ससुर द्वारा बलात्कार की पीड़िता को पति द्वारा घर से किया गया बेदखल।

Top Banner

बड़ा अजीब महसूस होता है जब हम ऐसी घटनाओ को पढ़ते एवं सुनते है। लगता है कि आज धरती से मानवता पूरी तरह से नेस्तनाबूत हो गयी है आखिर जहां मे भरोसा नाम की कोई चीज बची भी है अथवा नही? आज की हवसी दरिंदो द्वारा पवित्र से पवित्र रिस्ते को दाग दार करके इस कदर तार तार करते है कि कभी भी कोई मासूम ऐसे रिस्तो पर किस कदर भरोसा करेग? मिली जानकारी के अनुसार थाना मुजप्फर नगर अंतर्गत थाना ककरौली निवासी सैय्यद रजा (बदला हुआ नाम) की पुत्री हिना (बदला हुआ नाम) का विवाह विगत साल 19 अगस्त 2022 को उनके धर्म के रिवाज के अनुसार मीर थाना अंतर्गत एक ग्राम सभा मीरपुर निवासी सद्दाम (बदला हुआ नाम) के पुत्र सलीम से हुआ, मगर जो कहावते बुजुर्गो ने बहुत पहले कहा है वह बहुत ही सोच समझा कर कहा होगा जिसमे कहा गया है कि हर चमकने वाली चील हीरा

नही होता। ठीक उसी तरह लड़कियो की शादी के बाद मासूम लड़की मायके से अपना पूरा परिवार छोड़कर अपने ससुराल आती है और सास को मां तथा ससुर को पिता के समान मानने लगती है । अगर वही पिता तुल्य ससुर उस मासूम के साथ बलात्कार जैसा जघन्य अपराध करे तो ऐसे दरिन्दो को क्या सजा दि जाये यह तो बहुत ही सोचनीय विषय है। प्राप्त सूचना के अनुसार हिना की शादी के बाद से ही उसका ससुर सद्दाम उस पर बुरी नजर रखता था परंतु हिना उसे पिता का प्यार समझ कर अनदेखा कर देती थी मगर सद्दाम की नजर मे मासूम के लिए प्यार नही हवस थी जो निकालने के लिए उसको 05 जूलाई 2023 को समय मिल गया। मिली जानकारी के अनुसार सलीम की मां की तबीयत खराब होने के कारण 05 जूलाई 2023 को सलीम अपनी मां के ईलाज के लिए अपनी मां को साथ लेकर  किसी डाक्टर के पास चला गया और घर पर मासूम हिना अकेली रह गयी जिसकी फिराक मे ससुर रूपी दरिंदा सद्दाम पहले से घात लगाये बैठा था । घर मे हिना को अकेला पाकर सद्दाम ने हिना के साथ मार पीट करते हुए जबर जस्ती बलात्कार किया और घर से फरार हो गया। सायंकाल अपनी मां को दवा दिलाकर सलीम घर आया तो हिना ने सारी घटना अपने पति सलीम से बतायी मगर सलीम ने हिना को मारते हुए यह कहकर बाहर निकाल दिया कि तुम्हारे साथ हमारे अब्बू ने सम्बंध बनालिया है  उसके हिसाब से तुम हमारे पिता की पत्नी हो गयी हो अब तुम हमारे साथ नही रह सकती। हिना ने न्याय के लिए हर सम्भव प्रयास किया मगर हर जगह निराशा मिलने के कारण टूट गयी और आखिरी मे अपने मायके ककरौल चली गयी और वहा जाकर सारी आपबीती बयांन किया। हिना के मायके वाले भी मामले को सुलझाने की काफी कोशिश किये मगर बात नही बनी तो आखिर मे  मीरपुर थाना द्वारा उचित धाराओ मे मुकदमा पंजीकृत कर आरोपी ससुर एवं पति को खोजने मे जुट गयी है।