Friday, July 19, 2024
राजनीति

सीआर चौधरी हो सकते हैं भाजपा के उम्मीदवार

Top Banner

ज्योति मिर्धा के भाजपा में शामिल होने से नागौर की राजनीति में जो बदलाव आया है, उसमें पूर्व सांसद सीआर चौधरी अजमेर से भाजपा उम्मीदवार के तौर पर लोकसभा का चुनाव लड़ सकते हैं। अजमेर के मौजूदा सांसद भागीरथ चौधरी की रुचि इस बार किशनगढ़ से विधानसभा चुनाव लडऩे में है। चौधरी को लगता है कि प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने पर उनका मंत्री पद पक्का है। 2019 में जब सीआर चौधरी का टिकट काट कर भाजपा ने हनुमान बेनीवाल को समर्थन दिया था, तब भी सीआर चौधरी अजमेर आने को इच्छुक थे, लेकिन तब भाजपा ने साथ नहीं दिया और चौधरी को बिना पद के ही रहना पड़ा। अब जो हालात बदले हैं, उनमें चौधरी का भविष्य उज्ज्वल नजर आ रहा है। भागीरथ चौधरी और सीआर दोनों ही जाट समुदाय के हैं, इसलिए जाट समुदाय में कोई नाराजगी भी नहीं होगी। सीआर चौधरी भले ही नागौर के रहने वाले हों, लेकिन उनकी कर्म स्थली अजमेर रही है। आरएएस रहते हुए सीआर ने अधिकांश समय अजमेर में ही गुजारा। आरएएस रहते हुए सीआर को कांग्रेस सरकार ने राजस्थान लोक सेवा आयोग का सदस्य बना दिया। सीआर प्रशासनिक सेवा में रहे हों या राजनीति में दोनों में ही तकदीर के धनी रहे हैं। सीआर का अजमेर में भी खास प्रभाव है और मौजूदा समय में सीआर भाजपा की प्रदेश स्तरीय राजनीति में सक्रिय हैं।