Sunday, July 14, 2024
उत्तर प्रदेश

सी-विजिल ऐप से जनता चुनावी आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत करें – उप जिला निर्वाचन अधिकारी केवाईसी से जनता जानेगी उम्मीदवार का आपराधिक रिकॉर्ड

Top Banner

 

जौनपुर
अपर जिलाधिकारी कक्ष में बैठक हुई जिसमें स्वीप कार्यक्रम के अन्तर्गत सी विजिल व केवाईसी ऐप के बारे में जनता को जागरूक करने हेतु कहां गया। इस अवसर पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी राम प्रकाश ने कहा कि जनता दोनों ऐप डाउनलोड कर जागरूक नागरिक बनें। उन्होने बताया कि निर्वाचन आयोग ने चुनाव में खड़े उम्मीदवारों का अपराधिक रिकॉर्ड देखने के लिए केवाईसी एप लॉन्च किया है। नो योर कैंडिडेट (केवाईसी) एप से कोई भी व्यक्ति मोबाइल से उम्मीदवारों का अपराधिक रिकॉर्ड देख सकता है।
उप जिला निर्वाचन अधिकारी राम प्रकाश ने आगे बताया कि सी-विजिल, (नागरिक सतर्कता) नागरिकों के लिए निर्वाचनों के दौरान आदर्श आचार संहिता और व्यय के उल्लंघन की रिपोर्ट करने हेतु मोबाइल ऐप है। सी-विजिल का अभिप्राय नागरिक सतर्कता से है और इसमें नागरिकों द्वारा निर्वाचनों के स्वतन्त्र एवं निष्पक्ष संचालन के लिए परस्पर सक्रिय और जिम्मेदार भूमिका निभाने पर बल दिया गया है। उन्होंने कहा कि चुनाव के दौरान लोग सी-विजिल ऐप डाउनलोड कर इसका इस्तेमाल करें। अगर चुनाव में धांधली हो रही है तो लोग इसके जरिए शिकायत करें चुनाव आयोग एक्शन लेंगा चुनाव आयोग ने सी-विजिल ऐप को चुनावों में होने वाली गड़बड़ियों को रोकने के लिए तैयार किया है। इस ऐप की मदद से वोटर चुनावी आचार संहिता के उल्लंघन की जानकारी दे सकते हैं। ऐप के जरिए नेताओं के द्वारा दिए गए विवादित बयानों की भी शिकायत की जा सकती है। इस अवसर पर अन्य अधिकारियों के साथ प्रभारी सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी बृजेश चतुर्वेदी, जिला स्वीप कोआर्डिनेटर सैय्यद मोहम्मद मुस्तफा आदि उपस्थित रहे।