Friday, July 19, 2024
चर्चित समाचार

श्रीरामचरित मानस को राष्ट्रीय ग्रंथ घोषित किए जाने को लेकर प्रतापगढ़ की लालगंज सिविल कोर्ट में दाखिल हुआ वाद

Top Banner

प्रतापगढ़

श्रीरामचरित मानस को राष्ट्रीय ग्रंथ घोषित किए जाने को लेकर प्रतापगढ़ की लालगंज सिविल कोर्ट में दाखिल हुआ वाद

श्रीरामचरित मानस तथा श्रीमद् भागवत गीता व वाल्मीकि रामायण पर अभद्र बयानबाजी अथवा अपमान को राष्ट्र द्रोह का घोषित हो गैरजमानती अपराध आल इंडिया रूरल बार एशोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष ज्ञानप्रकाश शुक्ल ने दाखिल किया सिविल कोर्ट में वाद

वाद में भारत सरकार के कैबिनेट सचिव तथा राज्यसरकार उत्तर प्रदेश के प्रतिनिधि प्रतापगढ़ डीएम को बनाया गया पक्षकार सिविल कोर्ट के जज अरविंद सिंह ने चौबीस नवम्बर को सुनवाई के लिए की तिथि मुकर्रर  सहायक शासकीय अधिवक्ता को उपलब्ध करायी गयी वाद की प्रति
चौबीस नवम्बर को सरकार का पक्ष रखेंगें शासकीय अधिवक्ता रामसेवक उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ के लालगंज सिविल कोर्ट में दाखिल हुआ वाद

वाद दाखिल होते ही लालगंज सिविल कोर्ट में मौजूद वकीलों के चेहरे पर दिखी खुशी

वाद को लेकर बोले आल इंडिया रूरल बार एशोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष ज्ञानप्रकाश शुक्ल – भारत सनातन संस्कृति का विश्व में है मान्यता रखने वाला देश

बोले ज्ञानप्रकाश शुक्ल सनातन धर्म पर नाना प्रकार की टिप्पणियां तथा हिन्दू देवी देवताओं के प्रति अपमान जनक टिप्पणियों से राष्ट्र भावना हो रही आक्रोशित

चौबीस नवम्बर को लालगंज सिविल कोर्ट के वाद को लेकर होने वाले फैसले पर टिकी लोगों की निगाहें