Monday, July 22, 2024
अपराधचर्चित समाचार

10वीं पास फोन मैकेनिक को बीवी से अनबन ने बना दिया गैंगस्टर

Top Banner

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या करने वाले रोहित गोदारा की कहानी.

करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या में बीकानेर से एक बड़ा नाम सामने आ रहा है रोहित गोदारा उर्फ रोहित स्वामी. रोहित गोदारा ने कक्षा दसवीं तक की पढ़ाई की है. उसके बाद उसने मोबाइल की शॉप भी की. लूणकरणसर और बीकानेर में जब उसकी शादी हो गई तो उसके बाद उसके पत्नी से अनबन होने लगी. रोहित गोदारा के ससुरालवालों ने उस पर दहेज प्रताड़ना का मुकदमा दर्ज किया और वह पहली बार जेल गया. उसके बाद में वह धीरे-धीरे गुठली गैंग, मोनू गैंग और लॉरेंस गैंग के संपर्क में आया. इस तरह जिंदगी में एक मोबाइल मैकेनिक का काम करने वाला रोहित गोदारा बड़ा गैंगस्टर बन गया. जेल में जाकर इन बड़े गैंगस्टर लोगों से उसका मेल-मिलाप होने लगा. इसके बाद उसने अलग से अपनी गैंग बना और आज विदेश में बैठकर बड़ी-बड़ी साजिशों को अपने गुर्गों के द्वारा अंजाम दे रहा है.आपको बता दें कि रोहित गोदारा के तार पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला और राजू ठेहट की हत्या मामले में भी जुड़े मिले थे. अभी तक इस पर 22 मुकदमे दर्ज हैं. एसपी तेजस्विनी का कहना है कि रोहित गोदारा के गांव पहुंचकर और अधिक जानकारी जुटाई जा रही है.  रोहित गोदारा मूलत बीकानेर जिले के लूणकरणसर तहसील के कपूरीसर गांव का रहने वाला है. पुलिस ने पिछले तीन दिनों में 81 से ज्यादा रोहित गोदारा से जुड़े लोगों से पूछताछ की. जिसमें सबसे ज्यादा पूछताछ बीकानेर के मुक्ता प्रसाद थाने, सदर थाना और लूणकरणसर थाने में की गई. लेकिन किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया गया है. केवल डिटेन करके छोड़ दिया गया है.