Sunday, July 21, 2024
उत्तर प्रदेशप्रतापगढ़

यह आयोजन केवल वैवाहिक ही नहीं समाज में एकता देने वाला महासम्मेलन भी है:- रोशनलाल उमरवैश्य

Top Banner

उमरवैश्य समाज सभा का 15वाँ सामूहिक विवाह

यह आयोजन केवल वैवाहिक ही नहीं समाज में एकता देने वाला महासम्मेलन भी है:- रोशनलाल उमरवैश्य

प्रतापगढ़
जिला उमरवैश्य समाज सभा द्वारा आयोजित 15वें सामूहिक विवाह की तैयारी में सुबह से ही पदाधिकारी लगे हुए हैं। भव्य पंडाल बनाया जा रहा है। विवाह मंडप दुल्हनों के लिए तैयार किया जा रहा है। देश भर से आ रहे समाज के राष्ट्रीय पदाधिकारीयो के लिए अलग-अलग स्थानो पर रुकने के लिए समाज सभा के पदाधिकारी लगाए गए हैं। बारातियों के लिए नास्ते व भोजन की दिव्य व्यवस्था की जा रही है। जय माल मंच की सजावट को पूरे भव्य तरीके से सजाया गया है।
समाज सभा ने 10 जोड़ों का सामूहिक विवाह कराने का लक्ष्य रखा है। जिसमें एक दिव्यांग जोड़ा भी है।
समाज सभा के संरक्षक रोशनलाल उमरवैश्य ने बताया कि 15वें सामूहिक विवाह की सारी तैयारियां पूर्ण करने में सभी पदाधिकारी तन-मन-धन से लगे हैं। दुल्हनों व दूल्हे के लिए वह सारी व्यवस्था की जा रही है जो एक अच्छे मां-बाप की सोच रहती है कि हम अपने बेटे व बेटी की शादी बडे़ धूमधाम से करें। देश के कई प्रन्तो से लगभग 55 जिले के पदाधिकारी सामूहिक विवाह में शामिल होंगे। यह आयोजन केवल सामूहिक विवाह ही नहीं समाज की एकता का सम्मेलन का संदेश देने वाला महा समावेशन भी है। सुबह 8 बजे मायन से कार्यक्रम का शुभारंभ होगा। दोपहर 12:00 बजे शोभायात्रा (बारात) महुली रामजानकी मंदिर से गाजे-बाजे, हाथी, घोड़े के साथ चलकर चिलबिला स्टेशन चौराहे से होते हुए हनुमान मंदिर चिलबिला से वापस मौर्य रिसाॅर्ट पहुंचेगी। वहां पर द्वारपूजा, जयमाल व सामूहिक विवाह का कार्यक्रम संपन्न होने पर रात्रि 10:00 बजे तक सभी जोड़ों को जीवन में उपयोग होने वाली सभी सामग्री देकर विदाई की रस्म आदायगी की जाएगी।
समाज सभा के अध्यक्ष गुलाब चंद्र उमरवैश्य ने सभी पदाधिकारीयो से अनुरोध किया कि सभी इस महायज्ञ को सफल बनाकर एक बार समाज सभा का नाम पूरे देश में गौरवान्वित करने की कृपा करें। इस अवसर पर गुलाबचंद उमरवैश्य, मदनलाल उमरवैश्य, हनुमान प्रसाद, कैलाश मैनेजर, देवेंद्र गुप्ता एडवोकेट, श्री राम, लक्ष्मी नारायण, विश्वनाथ, आशीष कुमार, अजय कुमार, विजय कुमार, छेदीलाल, संतोष कुमार, देवानंद, रमेश कुमार, अरविंद कुमार, रमेश चंद्र, श्रवण कुमार, शिव शंकर, जवाहरलाल, विष्णु शंकर, शिवकुमार, देवेश कुमार, अमृतलाल, ओमप्रकाश, लालता प्रसाद उमरवैश्य, विजय कुमार, गोपाल गुप्ता, अंशिका, अंजू, सुनीता, पूनम उमरवैश्य, रेखा उमरवैश्य, पूजा, अमृतलाल, रामकुमार आदि उपस्थित रहे।