Sunday, July 14, 2024
उत्तर प्रदेशप्रतापगढ़

मसीहियों ने शोभा यात्रा निकाल यीशु मसीह के जन्मदिवस का दिया संदेश

Top Banner

एमसीबी

मनेद्रगढ़ क्षेत्र के अंतर्गत कई चर्चो के द्वारा झांकी निकाल कर प्रभु यीशु मसीह के जन्म का संदेश दिया सिरिलदास ने जानकारी देते हुए बताया की प्रभु यीशु मसीह का जन्म एक ऐतिहासिक घटना है जिसकी यादगार में प्रतिवर्ष यीशु मसीह का जन्म दिवस पूरे संसार में बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है यीशु मसीह का जन्म दिवस 25 दिसंबर को बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है जन्मदिवस मनाने का मुख्य के उद्देश्य के विषय में चर्च पासवानों के अनुसार प्रभु यीशु मसीह इस जगत में पापियों को उनके पापों से उधर करने स्वयं परमेश्वर मानव तन धारण कर दुनिया में जन्म लिया और वह किसी मनुष्य के संपर्क किस नहीं पवित्र आत्मा के द्वारा कुमारी मरियम जो उन दिनों की महिलाओं में पवित्र थी जिसके कोख से प्रभु यीशु मसीह ने जन्म लिया यह कोई छोटी-मोटी घटना नहीं है यह एक ऐतिहासिक घटना है और आज भी करोड़ों की तादाद में लोग प्रभु यीशु मसीह पर विश्वास करते हैं और उनके सत्य मार्ग पर चलते हुए सत्य की गवाही देते हैं यीशु मसीह ने अपने चेलों से कहा था की की जो बीमारी को मेरे नाम से चंगा करो दुष्ट आत्माओं को निकालो और मुर्दों को जीलाओ प्रभु यीशु ने यह भी कहा था कि यदि तुम मुझ पर विश्वास करोगे और मेरी आज्ञाओं का पालन करोगे तो मुझे भी बड़े-बड़े काम करोगे क्योंकि मार्ग सत्य और जीवन में ही हूं बिना मेरे द्वारा कोई भी पिता के पास स्वर्ग में नहीं पहुंच सकता क्योंकि स्वर्ग और पृथ्वी का सारा अधिकार मुझे दिया गया है पाप क्षमा और दंड देने का अधिकार भी मुझे ही दिया गया है किसी भी यीशु मसीह किसी व्यक्ति विशेष या धर्म जाति का खंडन मंडन करने नहीं आया था वह केवल पपिया का उद्धार करने आया था यीशु मसीह किसी की जागीर नहीं है जो भी उसे पर विश्वास करता है वह यीशु मसीह का हो जाता है क्योंकि परमेश्वर ने जगत से ऐसा प्रेम रखा कि उसने अपना इकलौता पुत्र दे दिया ताकि जो कोई उसे पर विश्वास करें वह नाश न हो परन्तु अनंत जीवन पाए यीशु मसीह पर जो विश्वास करता है वह एक नई सृष्टि बन जाता है आज भी यीशु मसीह के नाम से तमाम रोगी चंगे होते है ।