Saturday, July 13, 2024
चर्चित समाचार

अतीक- अशरफ के हत्यारोपियो को प्रतापगढ़ से भेजा गया चित्रकूट जेल

Top Banner

प्रतापगढ

अतीक अशरफ़
सनी, अरुण और लवलेश

अतीक अशरफ हत्याकांड के तीनों आरोपियों को चित्रकूट जिला कारागार स्थानांतरित कर दिया गया है। सुरक्षा कारणों के चलते तीनों को एक साथ हाई सिक्योरिटी में चित्रकूट ले जाया गया। तीनों अप्रैल माह में प्रतापगढ़ जिला कारागार लाए गए थे। अब सुरक्षा का हवाला देते हुए पुलिस प्रशासन के उच्चाधिकारियों ने हत्यारोपियों को प्रतापगढ़ से चित्रकूट जेल में शिफ्ट कर दिया है। बीते 15 अप्रैल को प्रयागराज की धूमनगंज पुलिस अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ को मेडिकल चेकअप के लिए कॉल्विन अस्पताल ले गई थी। अस्पताल परिसर में ही सनी, अरुण और लवलेश ने विदेशी जिगाना पिस्टल से दोनों भाइयों की पुलिस हिरासत में गोली मारकर हत्या कर दी थी।
तीनों मौके पर ही पकड़ लिए गए थे। हत्यारोपी लवलेश तिवारी बांदा, सनी हमीरपुर और अरुण मौर्या कासगंज का रहने वाला है। चूंकि हत्यारोपियों ने शुरुआती बयान में पुलिस और एसआईटी को चित्रकूट जाने की बात बताई थी, इसलिए तीनों को वहां भेजा जाना अहम माना जा रहा है। इसी जेल में मुख्तार अंसारी का बेटा अब्बास अंसारी भी बंद रह चुका है, जिसे बाद में एटा जेल स्थानांतरित कर दिया गया था। पूछताछ के दौरान हत्यारोपियों ने पुलिस को बताया था कि वह पहले चित्रकूट पहुंचे थे। तीनों को अतीक अहमद की जिला कचहरी में होने वाली पेशी के दौरान प्रयागराज पहुंचना था। बताया कि तीनों वहां से लखनऊ गए। लखनऊ में बस से प्रयागराज के लिए निकले। बस अड्डे पर पहुंचने के बाद जंक्शन के आसपास घूमते रहे। इसके बाद 13 अप्रैल को खुल्दाबाद थाने के पास स्थित होटल में रुके। यहीं से निकलकर दोनों भाइयों की हत्या को अंजाम दिया था।

———————————–
सुरक्षा कारणों के चलते उच्चाधिकारियों के आदेश पर अतीक अशरफ के तीनों हत्यारोपियों को चित्रकूट जिला कारागार स्थानांतरित कर दिया गया है।

रमाकांत दोहरे, जेल अधीक्षक जिला कारागार, प्रतापगढ़।